Parent Blog: ज्ञानकृति की अलग है पढ़ाई – सब कुछ करके सीखो भाई

ज्ञानकृति की पढ़ाई अपनी अलग विशेषता लिए हुये है। अन्य विद्यालय की पढ़ाई और ज्ञानकृति की पढ़ाई में अंतर बताती हुयी कविता।

यह कविता मैंने अपने बालक को कक्षा 1 और 2 में दिये गए होमवर्क और सिलैबस के बारे में जानकार लिखी है।

अन्य विद्यालय:

सुबह पढ़ाई, शाम पढ़ाई
ऊपर से ट्यूशन का बोझ
बिना समझाये, हमे रटाए
शिक्षक जी शाला में रोज़

बारह-खड़ी अभी है सीखी
और किताबें दे दी ढ़ेर
यह बचपन के साथ हमारे
होने लगा बहुत अंधेर

अब ज्ञानकृति के बारे में

वर्षामापी यंत्र बनवाते
और कराते वर्षा की नपाई
वृक्षों से है छाल निकलवाते
ऊपर से बीजों की बुवाई
ज्ञानकृति की अलग है पढ़ाई
सब कुछ करके सीखो भाई (2)

फल-वाले से बात करवाते
किलोग्राम का ज्ञान कराते
और कराते दूध की नपाई
ज्ञानकृति की अलग है पढ़ाई
सब कुछ करके सीखो भाई (2)

कविता पाठ करते हुये श्रेयांश 

https://www.facebook.com/gyankriti/videos/463534047468872/

Written by Ms. Deepa Shrivastava mother of Shreyansh Shrivastava (Grade 2 student)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *